Danik Bhaskar

सीओ देवेंद्र के परिवार का आरोप- ये गिरफ्तारी नहीं, उसे मौत से बचाया गया; दरोगा अनूप के पिता ने कहा- एनकाउंटर हो

प्रतापगढ़/औरैया/मथुरा. उत्तर प्रदेश के मोस्ट वांटेड गैंगस्टर विकास दुबे को गुरुवार सुबह मध्य प्रदेश में महाकालेश्वर मंदिर से उज्जैन पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया। वह कानपुर के बिकरू गांव में सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या करने के बाद फरार हुआ था। उस पर पांच लाख का इनाम घोषित किया गया था। लेकिन अब इस गिरफ्तारी पर सियासी पार्टियों के साथ दिवंगत पुलिसकर्मियों के परिजन सवाल उठाने लगे हैं। सीओ देवेंद्र मिश्र के रिश्तेदार कमलाकांत मिश्रा ने कहा कि, ये गिरफ्तारी नहीं है बल्कि उसे मौत से बचाया गया है।

मुझे विश्वास था कि विकास को बचा लिया जाएगा

देवेंद्र मिश्र ने एक चैनल से कहा कि, एक दिन पहले उसे फरीदाबाद में देखा गया। उसके अगले दिन वह सुरक्षित उज्जैन स्थित महाकाल मंदिर पहुंच गया। फरीदाबाद से उज्जैन का 12 घंटे का रास्ता है। आठ पुलिसकर्मियों की हत्या अकेले विकास दुबे या उसके गैंग ने नहीं किया है। उसके साथ और दूसरे लोग भी शामिल थे, जो अब उसे बचाते रहे। उन्हीं लोगों की सलाह पर विकास दुबे ने सरेंडर किया है। इसको मैं पकड़ना नहीं कहूंगा, असल में उसे मौत से बचाया गया। उसे विश्वास था कि उसे बचा लिया जाएगा। विकास दुबे का नेटवर्क एक्टिव है। इसमें शामिल लोगों की पहचान होनी चाहिए।

Read Full News Here: Source link

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top